Goseva ke Chamtkar (Wonders of Serving Cow)

20.00

651 Goseva ke Chamtkar (Wonders of Serving Cow) in Hindi with pictures by Gita Press Gorakhpur.

गो सेवा के चमत्कार ( सच्ची घटनाएँ ) , गो (गाय ) की सेवा करने से कैसा लाभ होता है , अनेकों सच्ची घटनाएँ तथा गाय के पालन पोषण व् अन्य महतवपूर्ण जानकारी इस पुस्तक में दी गयी है |

The miracles of cow service (true events), how to benefit from serving cow, many true events and upbringing of cow and other important information are given in this book.

गो सेवा के चमत्कार ( सच्ची घटनाएँ ) , गो (गाय ) की सेवा करने से कैसा लाभ होता है , अनेकों सच्ची घटनाएँ तथा गाय के पालन पोषण व् अन्य महतवपूर्ण जानकारी इस पुस्तक में दी गयी है |

गायों की महिमा अपार है। प्राचीन से अर्वाचीन साहित्य तक तथा लोक जीवन में भी गो महिमा की परम्परा सर्वत्र व्याप्त है। इसीलिये प्राचीन काल में आज की अपेक्षा प्राय: सभी गो-सेवा परायण थे और गायें बहुत अधिक थीं, जिससे समग्र देश में गो-जाति, गव्य-पदार्थ, श्रेष्ठ अन्न, सुख-शान्ति एवं समृद्धि का बाहुल्य था। यह प्रसिद्ध है कि देश में दूध-दही की नदियाँ बहती थीं।

वर्तमान कालक्रम से दुर्भाग्य वश आधुनिक सभ्यता के चाकचिक्य के कारण सात्त्विकता से विचलित मन वाले लोग गो-भक्ति से दूर हो रहे हैं, जिससे गो-वंश की भारी उपेक्षा होती जा रही है और गायों की संख्या नगण्य सी रह गयी है। परिणामतः देश में दुःख-दारिद्रय का विस्तार हो रहा है और लोगों में हिंसा, क्रोध, लोभ तथा विलासिता बढ़ती जा रही है। यही कारण है कि सर्वत्र अशान्ति भी व्याप्त होने लगी है।

कल्याण में समय-समय पर गो-सेवा के दिव्य चमत्कारों का प्रकाशन होता आया है। उन्हों में से कुछ विशेष उपयोगी सामग्री का संकलन कर लोकोपकार की दृष्टि से प्रस्तुत लघु पुस्तिका प्रकाशित की जा रही है। इसके अध्ययन से लोगों की कुछ दृष्टि बदल सकती है, ऐसी आशा है। यदि ऐसा कुछ हुआ तो इसमें गो-गोविन्द का ही अनुग्रह मानना चाहिये।

Brand

Geetapress Gorakhpur

Weight 100 g
Dimensions 27 × 18.5 cm

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Goseva ke Chamtkar (Wonders of Serving Cow)”
Review now to get coupon!

Your email address will not be published. Required fields are marked *

11 − 3 =