Saam Vediya Rudra Jap Vidhi

70.00

The Saam Vediya Rudra Jap Vidhi (Padpath Samhinta with Hindi English Translation)

इस संग्रह का प्रयोजन यह है कि जो महानुभाव सामवेद की रुद्री का अध्ययन करना चाहते हैं उनको सब सामग्री एक ही स्थान पर मिल जाय ।अंग्रेजी भाषा का ज्ञान व उसमें अभिरुचि रखनेवाले जो महानुभाव वेदों के प्रति भी श्रस्था रखते हों तथा वेद-प्रतिपादित विषयों की जानकारी प्राप्त कर उससे लाभान्वित होना चाहते हों उनके लिये प्रामाणिक अंग्रेजी अनुवाद भी यथाक्रम उपन्यस्त कर दिया गया है।

 

Description
The Saam Vediya Rudra Jap Vidhi (Padpath Samhinta with Hindi English Translation)

Collected by : Pt. yamuna Prashad Tripathi (IPS) , Editor : Acharya Pt. Rishishankar Agnihotri Published by : Chowkhamba, Kashi

अनेक सामवेदीय प्रन्थों से-जो संस्कृत, हिन्दी तथा अंग्रेजी भाषाओं में हैं-मंत्र, गायन व अर्थ हिन्दी तथा अंग्रेजी भाषाओं में संग्रह करके एक जगह कर दिया गया है। पदपाठ आचार्य श्री पंडित ऋषिशंकर त्रिपाटी अशिहोत्री की कृपा से इस ग्रन्थ में आ सका है । इस संग्रह का प्रयोजन यह है कि जो महानुभाव सामवेद की रुद्री का अध्ययन करना चाहते हैं उनको सब सामग्री एक ही स्थान पर मिल जाय । भूमिका में जो महत्वपूर्ण बातें लिखी गयी हैं वे श्री पंडित ऋषिशंकर त्रिपाठी अग्निहोत्री सामवेदाचार्य व स्वर्गीय पंडित तेजोनारायण जी पाण्डेय शास्त्री की कृपा से प्राप्त हुई है । अंग्रेजी भाषा का ज्ञान व उसमें अभिरुचि रखनेवाले जो महानुभाव वेदों के प्रति भी श्रस्था रखते हों तथा वेद-प्रतिपादित विषयों की जानकारी प्राप्त कर उससे लाभान्वित होना चाहते हों उनके लिये प्रामाणिक अंग्रेजी अनुवाद भी यथाक्रम उपन्यस्त कर दिया गया है।

Additional information
Weight 97 g
Dimensions 17.5 × 12.5 × .6 cm
Reviews (0)

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Saam Vediya Rudra Jap Vidhi”
Review now to get coupon!

Your email address will not be published. Required fields are marked *

8 + thirteen =